Editorial – सम्पादकीय

छठ पर्व जातिवाद पर करारा प्रहार है

बैरिया:- (मनोज तिवारी )समाज में जातिवादी व्यवस्था पर कुठाराघात करने व जातिवादी व्यस्था को बढ़ावा देने वालो पर करारा प्रहार करने का पर्व है छठ ,पवित्रता का खासा खयाल रखने वाले इस व्रत में महादलित समाज के लोग डोम के हाथों से बने दउरा व सुपली की भूमिका इस पर्व में बड़ी महत्वपूर्ण है छठ का अर्ध्य इनके हाथो से ...

Read More »

कन्हैया कुमार धार्मिक भावना को ठेस पहुँचाने के आरोपों को लेकर फिर विवादों में

क्रांति कुमार पाठक/बेगूसराय : जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय के छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पटना एम्स में जूनियर डॉक्टरों के साथ मारपीट के अलावा बेगूसराय के भगवानपुर थाना क्षेत्र के दहिया स्थित दुर्गा पूजा समिति के सदस्यों के साथ हुए मारपीट के बाद 20 अक्टूबर की शाम एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं। इस बार वे अपने फेसबुक ...

Read More »

25 सितम्बर, 2018 को 102 वीं जयन्ती पर विशेष- देश के समग्र विकास हेतु पं० दीन दयाल उपाध्याय के दर्शन को अपनाना होगा — डा० गणेश पाठक

पं० दीन दयाल उपाध्याय एक महान राष्ट्रवादी चिंतक, विचारक, भविष्यद्रष्टा, समाजशास्त्री, इतिहासकार, दार्शनिक, अर्थशास्त्री, पत्रकार एवं लेखक थे। यदि पंडित जी को समवेत रूप से समग्र विकास का प्रणेता कहा जाय तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। कारण कि उनके विचार समग्र विकास के पोषक थे। उनकी अवधारणा थी कि हिन्दुस्तान के समग्र विकास का आधार अपनी भारतीय संस्कृति होनी चाहिए। ...

Read More »

कमिटी-कमीशन-डस्टबिन:पुलिस सुधार

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा की हमें भारतीय पुलिस को (स्मार्ट SMART) संवेदनशील,आधुनिक,सतर्क और जिम्मेदार,विश्वसनीय,तकनीकी क्षमता से युक्त,और प्रशिक्षित बनाना होगा.निश्चित ही ऐसे आह्वान आकर्षक और सकारात्मक लग सकते हैं,पर इतने आकर्षक लगने वाले आह्वानों के पीछे की कड़वी सच्चाई न जनता समझती है न ही कोई और.तमाम कमीशन और कमिटी,सुधार आयोगों के सुझावों पर गौर करें तो समझ में ...

Read More »

कमिटी-कमीशन-डस्टबिन:पुलिस सुधार

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा की हमें भारतीय पुलिस को (स्मार्ट SMART) संवेदनशील,आधुनिक,सतर्क और जिम्मेदार,विश्वसनीय,तकनीकी क्षमता से युक्त,और प्रशिक्षित बनाना होगा.निश्चित ही ऐसे आह्वान आकर्षक और सकारात्मक लग सकते हैं,पर इतने आकर्षक लगने वाले आह्वानों के पीछे की कड़वी सच्चाई न जनता समझती है न ही कोई और.तमाम कमीशन और कमिटी,सुधार आयोगों के सुझावों पर गौर करें तो समझ में ...

Read More »

शिमला विवि की साख का सिकंदर – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

हिमाचल शिक्षा के लक्ष्य, वैचारिक स्रोत तथा भविष्य के मानव संसाधन की परख का सबसे बड़ा स्तंभ शिमला स्थित विश्वविद्यालय ही माना जाएगा। हालांकि शिक्षा का हब बनाते-बनाते सोलन की पहाडि़यों पर कई निजी विश्वविद्यालय खड़े हो गए, फिर भी कुछ को छोड़कर अन्य संघर्ष की छात्र संख्या में घटती साख पर चिंतित हैं। यह भी विडंबना है कि करीब ...

Read More »

एक देश, एक कानून क्यों नहीं – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 35ए का मुद्दा सर्वोच्च न्यायालय के विचाराधीन है और अगली तारीख 27 अगस्त तय की गई है। यह कानून संसद ने पारित नहीं किया। जब संविधान सभा में देश के संविधान पर विमर्श जारी था, तो अनुच्छेद 370 को ‘अस्थायी प्रावधान’ के तौर पर शामिल किया गया था। जम्मू-कश्मीर के स्पेशल स्टेटस के मद्देनजर अनुच्छेद 35ए लागू ...

Read More »

केंद्रीय योजनाओं में पर्वतीय त्रासदी  – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

यकायक हथनी कुंड में बढ़ गई पानी की मिकदार से दिल्ली को चेतावनी मिली तो पता चला कि पहाड़ नहा रहा है, वरना केंद्र की योजनाओं में पर्वत के प्रति त्रासदी ही रही। यह जुल्म पहाड़ का तो कतई नहीं कि वह पहाड़ क्यों है और हर साल बादलों से टकराकर बारिश क्यों करता है, फिर भी जब नदियां उछलती हैं तो मालूम होता है कि हिमाचल जैसे पर्वतीय प्रदेशों की निशानी और कहानी क्या होती है। पंजाब, हरियाणा, द

Read More »

‘काम’ बोलेगा, ‘नाम’ नहीं – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

सरकारें शहर, जिले, सडकें, अस्पताल और विश्वविद्यालयों के नाम बदलती रही हैं। इस हमाम में सभी नंगे हैं। राजनीतिक दल और उनकी सरकारें अपने-अपने महापुरुषों और महान नेताओं की स्मृतियों को संजो कर रखना चाहती हैं। हमें कोई आपत्ति नहीं है। उप्र की योगी सरकार ने मोदी सरकार की हरी झंडी पाकर मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर ‘पंडित दीनदयाल ...

Read More »