इंदौर-भोपाल फिर सबसे साफ शहर..

भोपाल : इंदौर और भोपाल एक बार फिर से देश के सबसे साफ शहरों में शुमार हो गए हैं। यह लगातार दूसरा साल है जब इस लिस्ट में इंदौर पहले नंबर पर और भोपाल दूसरे नंबर आया है। वहीं चंडीगढ़ का स्थान तीसरा है। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर की इस उपलब्धि पर ट्वीट कर खुशी जाहिर की है।
मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा कि हमारे इंदौर के भाई-बहन जो ठान लेते हैं, उसे पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ते। उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि इंदौरवासियों ने अपने शहर की बादशाहत बरकऱार रखी। इस गौरवशाली उपलब्धि के लिए शहर की महापौर,
नगर निगम कमिश्नर और उनकी टीम को बहुत-बहुत बधाई। उल्लेखनीय है कि केन्द्रीय आवास एवं शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कल बुधवार को स्वच्छता सर्वेक्षण के नतीजे जारी करते हुए बताया कि म्युनिसिपल बॉडीज में नई दिल्ली म्युनिसिपल काउंसिल (एनडीएमसी) तीन लाख से कम आबादी वाला सबसे साफ शहर सबित हुआ है। वहीं सभी राज्यों की राजधानियों में ग्रेटर मुंबई सबसे साफ शहर साबित हुआ है।
सर्वे रिपोर्ट में बताया गया है कि 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में विजयवाड़ा सबसे साफ शहर रहा, जबकि 3 लाख से 10 लाख की आबादी वाले शहरों में मैसूर ने पहला स्थान हासिल किया है। उन्होंने बताया कि स्वच्छता सर्वेक्षण के मुताबिक, 37.66 लाख लोगों ने सर्वेक्षण के लिए अपना फीडबैक दिया है,
ये लोग देश की 4,203 नगरपालिकाओं से आते हैं। इससे जुड़े अधिकारियों ने बताया कि स्वच्छ सर्वेक्षण का फील्ड सर्वे एक स्वतंत्र एजेंसी से कराया गया है और शहरों को रैंकिंग देने के लिए डेटा तीन सूत्रों से इकट्ठा किया गया है। इसमें, सर्विस लेवल प्रोग्रेस, औचक निरीक्षण और लोगों के फीडबैक को शामिल किया गया है। इसमें लोगों के फीडबैक को 35 प्रतिशत हिस्सा दिया गया है।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।…

( साभार  :-  एजेन्सी / संवाददाता  / अन्य न्यूज़ पोर्टल  )

ताजा खबरों के हिन्दी में अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें, आप हमे ट्विटर पर भी फालो कर सकते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

जनपद बलिया के भीमपुरा थाना क्षेत्र के अवराई कला गांव में एक प्राइवेट लाइनमैन की विद्युत के चपेट में आने से मौत हो गयी

...