पांच दिन बाद घर आने वाला था बेटा, ‘मां’ के लिए हुआ शहीद..

रिपोर्ट- धर्मेंद्र सिंह
आगरा। सीमाा पर लड़ते हुए आगरा का लाल शहीद हुआ है। सिकंदरा के लखनपुर गांव  का रहने वाला देवेंद्र पाकिस्तान की तरफ से हुई फायरिंग में गोली लगने से शहीद हुआ। आतंकवादियों की घुसपैठ के बाद फायरिंग की गई थी, शहीद की तीन साल पहले शादी हुई थी और दो बच्चे हैं। उनकी शहादत की खबर से घर में कोहराम मचा हुआ है।
शहीद जवान की पत्नी
आगरा के सिकंदरा के लखनपुर गांव का रहने वाला  28 वर्षीय देवेंद्र बघेल  पाकिस्ता  की गोली से शहीद हो गया। वह सीमा सुरक्षा बल की 173 वीं बटालियन में थे। उनकी पोस्टिंग जम्मू में कठुआ जिले के हीरानगर भारत पाकिस्तान सीमा पर  थी। आतंकियो की घुसपैठ के बाद सर्च आॅपरेशन चलाया गया था। इसी बीच पाकिस्तान ने नियमों को तोड़ते हुए सीजफायर किया जिसमें  सीमा सुरक्षा बल के जवान देवेंद्र सिंह को गोली लगने से घायल हो गए, उनका इलाज कराया गया लेकिन जान नहीं बच सकी।
यह भी पढ़े: फ्लाईओवर हादसे में अबतक 18 की मौत, सीएम ले रहे पल-पल की जानकारी
देवेंद्र की मौत की खबर सुनकर घर में कोहराम मच गया वहीं पूरे गांव में मातम पसर गया । सिकंदरा के लखनपुर निवासी नारायण सिंह के बेटे देवेंद्र सिंह का 2011 में सीमा सुरक्षा बल में चयन हुआ था, वे काफी समय से जम्मू में भारत पाकिस्तान सीमा पर तैनात थे।
यह भी पढ़े: मतगणना के बाद कर्नाटक चुनाव में जेडीएस नहीं यह शख्स बना किंगमेकर
देवेंद्र बघेल की शादी तीन साल पहले खंदौली के नगला हेता निवासी पिंकी से हुई थी। देवेंद्र के दो साल का बेटा धीरज और नौ महीने की बेटी ऋतिका हैं। वह डेढ़ महीने पहले कुछ दिन की छुट्टी लेकर परिवार से मिलने आए थे। पांच दिन बाद वह घर लौटकर आने वाले थे।
. पांच दिन बाद घर आने वाला था बेटा, ‘मां’ के लिए हुआ शहीद . | …..

( साभार  :-  एजेन्सी / संवाददाता  / अन्य न्यूज़ पोर्टल  )

ताजा खबरों के हिन्दी में अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें, आप हमे ट्विटर पर भी फालो कर सकते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

किसानों पर पड़ रही सूखे की मार, सपा नेता ने सरकार के सामने रखी डिमांड..

रिपोर्ट-अमरिल लाल बस्ती। जिले को सूखा घोषित कराने के लिए समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता और किसानों ने पूरे शहर में जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया और जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राज्यपाल  को एक ज्ञापन भिजवाया वही समाजवादी नेता महेंद्र नाथ यादव ने कहा कि 15 जुलाई तक अगर बारिश नहीं होती तो जिले को सूखा घोषित कर दिया जाता है लेकिन प्रदेश सरकार की मशीनरी पूरी तरह फेल है कि