बलिया: द्वबा के दूध से बिहार में बहार क्षेत्र में कई लोगों को मिला कमाई का साधन।

सुरेमनपुर। द्वबा के दूध से बिहार में बहार क्षेत्र में कई लोगों को मिला कमाई का साधन स्थापित की निजी डेयरी मुख्यालय स्थित यूपी सरकार की पराग डेयरी करीब एक दशक पहले तक बैरिया तहसील क्षेत्र से हजारों लीटर दूध मिलता था पशुपालक पराग के समितियो पर दूध दे कर अच्छा पैसा कमाते थे लेकिन अचानक यूपी सरकार की उदासीनता की वजह से पराग की समीतिया बन्द हो गई अब बिहार की कम्पनी सुधा डेयरी ने द्वाबा में तकरीबन दो दर्जन समितियों का गठन कर के दूध का कारोबार बढा दिया है जैसे में हनुमागंज, नरायनगढ़, नवका गांव, तिलापुर मानगढ़,लमही, गोबरही, खरिका आसमान पुर तमाम गांवो में दूध का कारोबार जोरो से चल रहा है हनुमागंज के सचिव अमरजीत यादव का कहना है कि पशुपालक सुबह शाम दूध लेकर आते है और दस दिन पे पैसा दिया जाता है पशुपालक को दूध की अच्छी कीमत मिल जाती हैं वही धर्मबाग निवासी जितेंद्र तिवारी का कहना है कि बिहार के सुधा डेयरी उद्योग आने से हमारे द्वबा में बेरोजगारी दूर होती नजर आ रही हैं और दूध का भी रेट अच्छा लगता हैं

मनोज कुमार तिवारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

जिला कारागार में कैदी की मौत से मचा हडकंप, जांच में जुटी पुलिस..

रिपोर्ट- अखिलेश्वर तिवारी बलरामपुर। जनपद बलरामपुर के जिला कारागार में एक बंदी की आज तड़के संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। साथी की मौत से गुस्साए कैदियों ने जेल के अंदर जमकर बवाल मचाया। साथ ही निष्पक्ष जांच की मांग की। कैदी की मौत कैदियों के हंगामे के बाद जेल के अंदर और बाहर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया