जनपद बलिया: अभिलेख ना दिखाए जाने के कारण वहां उपस्थित ग्रामीणों ने जांच टीम को खदेड़ा।

दुबहड़(बलिया) :- ग्राम पंचायत दुबहड़ के विकास कार्यों में लूट खसोट की जांच करने पहुंची जांच टीम को आवश्यक अभिलेख ना दिखाए जाने के कारण वहां उपस्थित ग्रामीणों ने जांच टीम को बैरंग वापस भेज दिया। ज्ञात हो कि ग्राम पंचायत दुबहड़ में हुए विभिन्न विकास कार्यों में वहां के ग्रामीणों ने बकायदे शपथ पत्र देकर गांव के विकास कार्यों का भौतिक सत्यापन करने की मांग की थी । जिस पर जिलाधिकारी ने भूमि संरक्षण अधिकारी संजेस श्रीवास्तव की अध्यक्षता में एक जांच कमेटी का गठन कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने की बात कही थी। कई महीने बीत जाने के बाद गुरुवार की शाम 5 बजे बिना अभिलेख के पहुंचे डीआरडीए के राजा राम मौर्य एवं कमलेश कुमार गुप्ता से ग्रामीणों ने जब विकास कार्यों की सूची तथा उसमें आवंटित धनराशि का ब्यौरा मांगा तो उन्होंने अभिलेख ना होने की बात कही जिससे ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा और ग्रामीणों ने उन्हें वहां से भगा दिया। ग्रामीणों का कहना था कि जांच कमेटी के अध्यक्ष संजेस श्रीवास्तव से कई बार मिला गया लेकिन वह आज भी कमेटी के दो लोगों को भेज कर अपने खुद मौके पर नहीं आए जबकि उन्हीं के पास सारा अभिलेख मौजूद है। इस मौके पर सुबह दस बजे से ही दर्जनों ग्रामीण जांच कमेटी के लोगों का इंतजार कर रहे थे। जिस में मुख्य रुप से शिव कुमार पांडे किटू बाबा, अभय सिंह, धनू पान्डेय, आयुष पांडे ,अभय श्रीवास्तव, धर्मवीर सिंह जगदीश सिंह सहित अनेको लोग उपस्थित थे ।

मुकेश कुमार ओझा की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

जिला कारागार में कैदी की मौत से मचा हडकंप, जांच में जुटी पुलिस..

रिपोर्ट- अखिलेश्वर तिवारी बलरामपुर। जनपद बलरामपुर के जिला कारागार में एक बंदी की आज तड़के संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। साथी की मौत से गुस्साए कैदियों ने जेल के अंदर जमकर बवाल मचाया। साथ ही निष्पक्ष जांच की मांग की। कैदी की मौत कैदियों के हंगामे के बाद जेल के अंदर और बाहर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया