इंदौर जिला अस्पताल में रात में नहीं मिलती दवाइयां..

इंदौर, नईदुनिया प्रतिनिधि। जिला अस्पताल में रात में आने वाले मरीजों को दवा वितरण नहीं होने से इमरजेंसी के समय आने वाले मरीज परेशान हो रहे हैं। शासन स्तर पर दवा वितरण सुबह 8 से 1 बजे तक व दोपहर 2 से रात 8 बजे तक किए जाने का प्रावधान है। इसके अलावा इमरजेंसी में आने वाले मरीज के लिए इमरजेंसी कक्ष में दवा उपलब्ध कराना होती है, लेकिन जिला अस्पताल में रात 8 बजे के बाद आने वाले मरीजों को दवाइयां नहीं मिलतीं। रात में एक्सीडेंट केस में प्रयोग होने वाली दवाइयां ही उपलब्ध रहती है। ऐसे में अन्य परेशानी लेकर आने वालों को सुबह ओपीडी का इंतजार करना होता है या फिर बाहर मेडिकल दुकान खोजकर व्यवस्था करना होती है।
अधिकतर को कर देते हैं रेफर
रात को चार-पांच एक्सीडेंट के केस अस्पताल की इमरजेंसी में पहुंचते हैं। यहां पर एक मेल व एक फीमेल डॉक्टर की ड्यूटी लगाई जाती है। इसके बावजूद ज्यादा चोट लगने पर मरीज को एमवाय अस्पताल रेफर कर दिया जाता है। रात को जांच न हो पाना इसकी मुख्य वजह है।
दवाई का रहता है स्टॉक
जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. एमएस मंडलोई के मुताबिक रात को इमरजेंसी कक्ष में सभी प्रकार की दवाई का स्टॉक रहता है। कभी-कभी कोई दवाई नहीं रहती होगी। वहीं मरीज की स्थिति को देखकर ही रेफर किया जाता है।

( साभार  :-  एजेन्सी / संवाददाता  / अन्य न्यूज़ पोर्टल  )

ताजा खबरों के हिन्दी में अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें, आप हमे ट्विटर पर भी फालो कर सकते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

राहुल की रैली को लेकर सियासत गरमाई – Punjab Kesari (पंजाब केसरी)..

...