जनपद बलिया: ट्रैक्टर ने बालिका को कुचला हुई मौत, आक्रोशित ग्रामीणों ने एनएच 31 को किया जाम।

सुघर छपरा(बलिया) :- गंगा किनारे से खनन कर सफेद बालू लेकर दूबेछपरा से बलिया की तरफ जा रहे ट्रैक्टर ने मंगलवार को एक बालिका को कुचलते हुए कटान से विस्थापित होकर एनएच के पटरी पर बसे संतन पासवान के मड़हे में घुसा! इस घटना में बालिका की मौके पर ही मौत हो गयी। जबकि कटान पीड़ित का सब कुछ ट्रैक्टर से दबकर नष्ट हो गया। घटना से गुस्साएं ग्रामीणों ने सुघर छपरा के पास एनएच 31 को जाम कर दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे एसडीएम व सीओ के समझाने-बुझाने के लगभग दो घंटे बाद जाम समाप्त हुआ। बता दें कि बैरिया थाना क्षेत्र के विशुनपुरा गांव निवासी दहारी तुरहा की 16 वर्षीय पुत्री संध्या रामगढ़ नई बस्ती स्थित अपने मामा बाला तुरहा के घर गई थी। मंगलवार की सुबह नौ बजे सड़क के किनारे दुबेछपरा जा रही थी, तभी सामने से सफेद बालू लदा ट्रैक्टर तेज रफ्तार से आ रहा था, जो उक्त बालिका को कुचलते हुए एनएच के पटरी पर बसे संतन पासवान के रिहायशी मड़हे में जा घुसा, जिससे घर में रखा बर्तन, खाद्यान्न, कपड़े, सब कुछ ट्रैक्टर से दबकर बर्बाद हो गया। मड़हे का कुछ हिस्सा भी धराशाई हो गया। घटना के बाद ट्रैक्टर चालक ट्रैक्टर छोड़ मौके से भाग खड़ा हुआ। तब तक घटना स्थल पर काफी भीड़ इकट्ठा हो गई। लोगों ने देखा कि संध्या ट्रैक्टर से दबकर मर चुकी है। वहीं संतन पासवान का काफी नुकसान हुआ है। ग्रामीणों द्वारा इस घटना के खिलाफ घटना स्थल पर सुघर छपरा के निकट एनएच 31 को जाम कर दिया गया। जिससे एनएच के दोनों तरफ वाहनों की लंबी-लंबी कतारे लग गई।घटना की सूचना पर एसडीएम बैरिया राधेश्याम पाठक, सीओ उमेश यादव, एसएचओ गगनराज सिंह सहित बैरिया सर्किल के दोकटी, हल्दी, रेवती व बैरिया की फोर्स मौके पर पहुंच गई। काफी देर समझाने बुझाने पर ग्रामीणों ने चक्का जाम समाप्त कर दिया। ट्रैक्टर पांडेयपुर निवासी मुन्ना पांडेय का था, जिसे नौरंगा निवासी राजेश यादव चला रहा था। अधिकारियों के हस्तक्षेप पर ट्रैक्टर मालिक मुन्ना पांडेय द्वारा मृत बालिका को एक लाख रुपये नकद की सहायता दी गई। उसके बाद संध्या का शव पुलिस थाने ले आई, जहां से पोस्टमार्टम के लिए बलिया भेज दी गई। मृतका के परिजनों के तहरीर पर बैरिया पुलिस ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। मौके पर उपस्थित भीड़ ने दूबेछपरा गंगा तट पर सफेद बालू के अवैध खनन व उसकी ढुलाई कर अन्यत्र ले जाने का मामला अधिकारियों के समक्ष उठाया किंतु सत्ताधारी दल के कुछ लोगों द्वारा यह कहकर मामले को शांत कर दिया गया कि अभी बालू का खनन मामला नहीं है बल्कि दुर्घटना में मृत संध्या के परिजनों को सहायता दिलाना जरूरी है। पुलिस व एसडीएम ने भी ग्रामीणों की उक्त शिकायत को अनसूना कर दिया।

बलिया से संदीप सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

जनपद बलिया में डायल 100 नम्बर की गाडी पर तैनात एसआई की मौत

...