जनपद बलिया: कच्ची शराब के विरुद्ध अचानक हुई छापेमारी से अवैध शराब व्यवसायियों में हड़कंप।

(बलिया)* :- बैरिया उपजिलाधिकारी राधेश्याम पाठक व क्षेत्राधिकारी उमेश यादव के नेतृत्व में पुलिस व आबकारी विभाग की संयुक्त टीम द्वारा सोमवार को दया छपरा में कच्ची शराब के विरुद्ध आवश्यक छापेमारी की गयी।अचानक हुई छापेमारी से अवैध शराब व्यवसायियों में हड़कंप मच गया तथा वे अपना घर बार छोड़ फरार हो गए।दया छपरा में घंटे तक की गई छापेमारी के दौरान 50 लीटर कच्ची शराब के साथ डेढ क्विंटल लहन व शराब बनाने के उपकरण को नष्ट किया गया।वहीं छापेमारी के दौरान दो लावारिश मोटरसाइकिल एक अपाचे, व दुसरी पल्सर मोटरसाइकिल मिला।जिसे थाने भेज दिया गया।लगातार हो रही दबिश से कच्ची शराब बनाने वाले लोग में डर हो जाने से कच्ची शराब में बिक्री में गिरावट देखने को मिल रहा है।दया छपरा के आसपास के लोगों ने बताया की जबसे आवकारी विभाग वह पुलिस की सक्रियता बढ़ी है,तब से डर के मारे शराब बनाने वाले लोग इधर-उधर दुसरे काम के तलाश में घुम रहे हैं।अधिकारी निरीक्षक ने बताया की कल से दया छपरा में सयूक्त रुप पीकेट लगाया जायेगा।बैरिया क्षेत्राधिकारी उमेश यादव ने कहा कि दया छपरा मे किसी भी कीमत पर अवैध कच्ची शराब का निर्माण नहीं होने दिया जाएगा।वही बैरिया थानाध्यक्ष गगनराज सिंह ने कहा की अवैध शराब बनाने मे लिप्त लोगों अपने कमाई के लिए कोई दुसरा रास्ता अख्तियार कर ले।नहीं तो जेल जाने के लिए तैयार रहें।छापेमारी अपने टीम के साथ आवकारी निरीक्षक आदित्य प्रकाश शुक्ला,बैरिया थानाध्यक्ष गगनराज सिंह सिंह,दोकटी थानाध्यक्ष,हल्दी थानाध्यक्ष,उपनिरीक्षक लाल बहादुर यादव,सुरेमनपर चौकी इंचार्ज प्रमोद सिंहव महिला कांस्टेबल के साथ काफी संख्या में पुलिसकर्मी शामिल रहे।बलिया से संदीप सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

जम्मू-कश्मीर : तराल में CRPF और आतंकियों की मुठभेठ, 3 आतंकी ढेर – Punjab Kesari (पंजाब केसरी)..

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों के साथ भीषण मुठभेड में कल रात जैश ए मोहम्मद के एक स्वयंभू कमांडर समेत तीन आतंकवादी मारे गए और इस दौरान पांच सुरक्षाकर्मी भी घायल हो गए। पुलिस प्रवक्ता ने बुधवार सुबह बताया कि पुलवामा जिले के तराल क्षेत्र के हिना गांव में आतंकवादियों के छिपे होने की एक पुष्ट सूचना मिलने के बाद राष्ट्रीय रायफल्स, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) और जम्मू क